ब्लॉगस्पॉट के बारे में कुछ और बेहतरीन टिप्स - More tips about google blogger, blogspot, make it more optimize

अगर आप ब्लॉगस्पॉट पर हैं तो आपको कई फायदे हैं, जिनमें से एक है:




  1. गूगल द्वारा सिक्योर्ड सर्वर प्रोवाइड करना, मतलब अब आप अपने ब्लॉगस्पॉट पर https का प्रयोग कर सकते हैं. हालाँकि, यह कस्टम डोमेन के साथ नहीं है, लेकिन इसका लाभ Blogspot का अड्रेस रखने वाले तो उठा ही सकते हैं. इसके लिए आप ब्लॉगर-डैशबोर्ड से Setting में जाएं, फिर Basic टैब में ही HTTPS settings सेक्शन में HTTPS availability को Yes करें. साधारण रूप में आप यह समझ लीजिये कि आपकी वेबसाइट की सुरक्षा इससे बढ़ जाती है (The data transfer between you and website will be encrypted.) How to set https setting in your blogspot blog

  2. ब्लॉगस्पॉट पर कस्टम डोमेन / सबडोमेन सेट करना, मतलब आप वगैर होस्टिंग का खर्च किये अपनी वेबसाइट रन कर सकते हैं. जी हाँ! इसके लिए आप ब्लॉगर-डैशबोर्ड से Setting में जाएं, फिर Basic टैब में जाएं. वहां ब्लॉग-अड्रेस सेक्शन में Set up a third-party URL for your blog को क्लिक करें, फिर अपना डोमेन नेम (www के साथ) / सबडोमेन डालें और Save पर क्लिक करें. क्लिक करते ही या एरर देगा और गूगल आपको डोमेन का CNAME रिकॉर्ड चेंज करने के लिए कहेगा, उसे आप अपने डोमेन की DNS ZONE SETTING में जाकर चेंज कर दें. 8 - 10 घंटे रिकॉर्ड प्रोपोगेट होने में लगेंगे, फिर दोबारा ब्लॉग-अड्रेस सेक्शन में Set up a third-party URL for your blog को क्लिक करें, फिर अपना डोमेन नेम (www के साथ) / सबडोमेन डालें और Save पर क्लिक करें. अब यह सेव हो जायेगा और आपका ब्लॉग आपके डोमेन या सबडोमेन के नाम से खुलेगा. Setting up custom domain for your blogspot blog Setting up custom domain for your blogspot blog - changing cname recordsSetting up custom domain for your blogspot blog - changing cname records in DNS ZONE

  3. इसके अतिरिक्त, पोस्ट सेक्शन में दाहिनी ओर Labels, Published on, Permalink, Location, Search Description, Options नाम से विकल्प सुझाये गए हैं, जिनका आपकी पोस्ट की क्वालिटी सुधारने में बड़ा ही महत्त्व है. लेबल्स में आप उन कीवर्ड्स को डालते हैं, जिनसे सम्बंधित और भी पोस्ट आपने डाली है या डालने वाले हैं. जैसे, अगर देश के प्रधानमंत्री के बारे में आप कोई आज पोस्ट लिखते हैं तो लेबल में PrimeMinister शब्द डाल देने से यह लाभ होगा कि अगर कोई आपके ब्लॉग में इस शब्द से सम्बंधित पोस्ट ढूंढता है तो सभी पोस्ट एक साथ दिख जाएँगी. एक तरह से यह समूह बनाने का कार्य करता है, किसी कैटगरी की तरह. यह एक से अधिक हो सकता कॉमा , के साथ. जैसे आप PrimeMinister के साथ Narendra Modi, BJP Leader भी डाल सकते हैं. इसी तरह, Published on में आप पोस्ट की टाइमिंग को शिड्यूल कर सकते हैं, जब आप उसे पब्लिश करना चाहें. Permalink में आप SEO के अनुसार अपनी पोस्ट का यूआरएल स्ट्रक्चर बना सकते हैं. जैसे- http://mithilesh2020.com/writing/blogspot-design-themes-few-tips-customization/ ... इस यूआरएल को देखकर आप भी और सर्च-इंजिन्स भी समझ जायेंगे कि यह पोस्ट किस बारे में है. यह ब्लॉगस्पॉट का एक पावरफुल फीचर है. Location में आप गूगल मैप का लाभ लीजिये तो Search Description में अपनी पोस्ट का सारांश लिखिए (संभव हो तो english में). यह सारी कवायद आपको शुरुआत में रूचिकर नहीं लग सकती है, लेकिन सर्च इंजिन में आपको इसका बड़ा फायदा मिलना तय है, बजाय उनके जो यह कवायद नहीं करते हैं.  Post options in blogger, one of the best blogging platform

  4. इसी तरह Stats सेक्शन में Overview, Posts, Traffic sources, Audience के माध्यम से आपको आपके ब्लॉग की हकीकत पता चल जाती है कि कौन, कहाँ से, क्या पढ़ रहा है. किस पोस्ट पर ज्यादे लोग विजिट कर रहे हैं और किस पर कम. जाहिर है, उसकी के अनुसार आप आगे की रणनीतियाँ बनाना चाहेंगे.

  5. इसी प्रकार SETTING के अन्य हिस्सों जिनमें, Posts and comments, Mobile and email, Language and formatting, Search preferences, Other शामिल हैं, उससे आप अपने ब्लॉग के बारे में और सहूलियत पा सकते हैं. ईमेल सेक्शन में आप सीक्रेट वर्ड की सहायता से मेल द्वारा अपने ब्लॉग पर पोस्ट कर सकते हैं, जबकि Language and formatting में आप भाषा का चुनाव और टाइम जोन की सेटिंग करते हैं. बेहद महत्वपूर्ण Search preference में Meta tags, Errors and redirections, Crawlers and indexing जैसी सेटिंग ठीक करते हैं तो Other हिस्से में आप ब्लॉग का बैकप ले सकते हैं, दुसरे ब्लॉग का कंटेंट डाल सकते हैं तो आप ब्लॉग डिलीट भी कर सकते हैं, जिसके लिए आपको Blog टूल्स सेक्शन में Import blog, Export blog, Delete BLOG के नाम से ऑप्शन दिए गए हैं. इसके अतिरिक्त Site FEED सेक्शन आपके लिए और भी महत्वपूर्ण हैं, जहाँ से आपकी वेबसाइट फीड के माध्यम से दूसरी जगहों पर देखी जाती है, मगर अंततः ट्रैफिक आपके ही पास आता है. blog setting, import, export, delete blog post, hindi tips


और भी कई जानकारियां आप मेरी वेबसाइट पर देख सकते हैं. कोई और टेक्निकल जानकारी चाहिए तो मुझे मेल करें:
धन्यवाद.
- मिथिलेश


More tips about google blogger, blogspot, make it more optimize,


Labels, Published on, Permalink,Location, Search Description,Options,Stats, Overview, Posts,Traffic sources, Audience, Posts and comments, Mobile and email, Language and formatting, Search preferences, Other, Meta tags, Errors and redirections, Crawlers and indexing, Blog Tools,Import blog, Export blog, Delete blog,Site feed, Allow Blog Feed, Post Feed Redirect URL, Post Feed Footer, Enable Title Links and Enclosure Links, blogger, blogspot, google blogger, blogging is best, blogging tips in Hindi, mithilesh2020

No comments