Header Ads

ईमेल मार्केटिंग टिप्स, एक अति आवश्यक प्रयास - Email marketing tips in hindi,best output

आखिर कैसे होगी 'न्यूज-पोर्टल' से कमाई? देखें वीडियो...

  1. आसान सब्सक्रिप्शन फॉर्म के तहत आप बड़े फॉर्म की बजाय, बहुत जरूरी और कम जानकारियां लें, जिससे कस्टमर बाउंस बैक न हो. और हाँ! उसको मेल के द्वारा धन्यवाद कहना न भूलें.

  2. कस्टमर द्वारा आपके ब्लॉग को सब्सक्राइब करने के पश्चात आप उसे अपनी कंपनी/ ब्रांड का न्यूजलेटर भेजें, जिसमें बेहतर तरीके से आपके ब्रांड का परिचय शामिल हो और इसमें समय-समय पर बदलाव, जिसमें बुलेट पॉइंट्स के साथ स्पष्ट सूचना हो, भेजते रहे. यदि इसमें पर्सनल टच (व्यक्तिगत नाम) शामिल हो तो यह सोने पर सुहागा साबित होगा.

  3. आपकी वेबसाइट/ ब्लॉग का रेस्पॉन्सिव होना आज के समय में बेहद आवश्यक है. आपको माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नाडेला का कथन भूलना नहीं चाहिए, जिसमें उन्होंने कहा है कि माइक्रोसॉफ्ट ने यह समझकर बड़ी भूल की है कि डेस्कटॉप कम्प्यूटर्स का ज़माना बदलेगा नहीं. आज के समय में मोबाइल डिवाइस पर ब्राउज़िंग बेहद बढ़ गयी है.

  4. ईमेल मार्केटिंग बिना प्लान के अंततः निरर्थक ही साबित होती है. इसमें ईमेल लिस्ट बनाना, किस किस समय पर किसको और क्या भेजना है, वह भी निरंतरता के साथ निश्चित करना बेहद आवश्यक है. आप अपने स्टैट्स में देखेंगे कि परिणाम बेहतर होते जा रहे हैं.

  5. ईमेल मार्केटिंग में जब आप अपने रेगुलर टारगेट ऑडियंस को मेलर भेजते हैं तो ऐसा न लगे कि आप गैर जरूरी बातें कह रहे हैं, बल्कि आपके टारगेट ऑडियंस की रुचि इसके लिए मुफीद रहेगी. ध्यान रहे, अच्छी ईमेल मार्केटिंग का मतलब 'बल्क मेल' कतई नहीं है, इसलिए आलसी न बनें और इंडिविजुअल के हिसाब से मेलिंग करने की कोशिश करें.

  6. ईमेल मार्केटिंग में 'सब्जेक्ट लाइन' पर विशेष ध्यान दें, अन्यथा मेल सर्वर आपकी मेल को स्पैम में भेज देगा या फिर अगर इस फ़िल्टरिंग से बच गए तो आपका कस्टमर सब्जेक्ट लाइन देखते ही डिलीट कर देगा, इसलिए सब्जेक्ट लाइन, स्पेसिफिक हो, जिसे देखते ही कस्टमर कहे कि इस मेल को हमें पढ़ना ही चाहिए. इसके साथ आप मेल को शार्ट रखें, क्योंकि कस्टमर लम्बी मेल देखते ही बोर हो जायेंगे, क्योंकि लोग स्क्रॉलिंग से बचना चाहते हैं, इसलिए अगर आपने ब्रीफ करके लिंक दे दिया है तो यह ज्यादे फायदेमंद साबित हो सकता है. जरूरत पड़ने पर छोटी तस्वीरों का प्रयोग भी करें. और हाँ! कॉल तो एक्शन बटन कस्टमर की पहुँच में रहे.

  7. हालाँकि, यह अलग कस्टमर की रूचियों पर निर्भर है, मगर आप जब मेल भेजते हैं तो यह ध्यान रखना उचित होगा कि उस समय आपका कस्टमर मेल बॉक्स खोलेगा भी कि नहीं. अक्सर लोग (फ्रीलांसर्स, ब्लॉगर्स) आधी रात को ढेरों मेल भेजते हैं तो ऐसे में मेल को देखे जाने की सम्भावना कम हो जाती है. वैसे लोग सर्वाधिक मेल चेक लंच के बाद करते हैं.

  8. मेल में अगर आपने कुछ कूपन, इंसेंटिव का विकल्प दिया है तो साइन अप में निश्चित तौर पर बढ़ोतरी दर्ज करेंगे. इस सम्बन्ध में अगर आपने गोडैडी  / बिगरॉक के मेलर्स को देखा है समझ जायेंगे कि कस्टमर्स को ग्रीडी मेल किस प्रकार भेजा जाता है.

  9. ईमेल मार्केटिंग के लिए अनेक मैनेज्ड सॉफ्टवेयर जैसे मेलचिम्प, अवेबर, गेट रेस्पोंस इत्यादि आते हैं, जिसका प्रयोग तमाम ब्लॉगर अपनी सुविधा के अनुसार करते हैं. इस बारे में आगे चर्चा करेंगे, तब तक के लिए शुभकामना सहित विदा लेता हूँ.


Email marketing tips in hindi, best output,

mailchimp, getresponse, aweber, mailer, never spam, give incentive, online marketing, best marketing tools, hindi tips, online tips

2 comments:

  1. Email marketing training classes teach you the fundamentals behind good email marketing campaigns, email copywriting at affordable price. Come for a free Demo!

    ReplyDelete
  2. Email marketing training classes teach you the fundamentals behind good email marketing campaigns

    ReplyDelete